ब्लॉगिंग क्या है और ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाते हैं

आज के इस लेख में आप सभी का स्वागत है.  हम जाने वाले हैं कि ब्लॉगिंग क्या है (What is Blogging in Hindi) और  ब्लॉगिंग को कैसे किया जाता है और ब्लॉगिंग से हम पैसे कैसे कमा सकते हैं यह सब जानने के लिए हमारे लेख को पूरा पढ़ें. अगर आप में लिखने का Passion है तो आप ब्लॉगिंग आसानी से कर सकते हो. “ब्लॉगिंग” शब्द को सुनने वाले बहुत से लोग यह समझने में असफल रहते हैं कि “ब्लॉग” क्या है या ब्लॉग को कैसे बनाते हैं, सबसे पहले ब्लॉगिंग ने एक ऑनलाइन व्यक्तिगत वेब लॉग के रूप में शुरू किया, जिसमें एक व्यक्ति अपने दिन के बारे में बताता है। “Web Log” से “ब्लॉग” शब्द आया। न केवल एक ब्लॉग का उपयोग विपणन (Marketing) के लिए किया जा सकता है, बल्कि यह भी है कि एक ब्लॉग अपने आप में और एक होम बिजनेस हो सकता है।

Blogging kya hai

ब्लॉगिंग क्या है – What is Blogging in Hindi?

एक ब्लॉग (“वेबलॉग”) एक ऑनलाइन जर्नल या सूचनात्मक (Informational) वेबसाइट है जो रिवर्स कालानुक्रमिक (Chronological) क्रम में जानकारी प्रदर्शित करती है, जिसमें नवीनतम पोस्ट पहले दिखाई देती हैं। यह एक ऐसा मंच है जहां एक लेखक या यहां तक कि लेखकों का एक समूह एक व्यक्तिगत विषय पर अपने विचार साझा करता है। ब्लॉगिंग के दो प्रकार होते हैं. पहला पर्सनल ब्लॉगिंग और दूसरा बिजनेस ब्लॉगिंग. आइए जानते हैं पर्सनल ब्लॉगिंग और बिजनेस ब्लॉगिंग में क्या अंतर है.

  1. Personal Blogging:- पर्सनल ब्लॉगिंग वो होती है जहां आप अपने आम जिंदगी के बारे में बात करते हैं अपने experience शेयर करते हैं और अपनी बेस्ट स्किल और Knowledge को शेयर करते हैं इसे पर्सनल ब्लॉगिंग या एक तरीके से हॉबी भी कह सकते हैं
  2. Business Blogging:- बिजनेस ब्लॉगिंग वह होती है जिसके जरिए आप पैसे कमा सकते हो अब आप सोच रहे होंगे कि बिजनेस ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए ते हैं तो मैं आपको बता दूं कि बिजनेस ब्लॉगिंग के जरिए आप अनेक तरीके से पैसे कमा सकते हो जो पहला जरिया है वह सबसे अधिक लोकप्रिय है जिसे गूगल ऐडसेंस कहते हैं जो आप लोग वेबसाइट या ब्लॉग पर ऐड देखते हैं उसके जरिए ब्लॉगर पैसे कमाते हैं. और भी अनेक तरीके से आप ब्लॉगिंग में पैसे कमा सकते हैं.
  • Advertising
  • Affiliate marketing
  • Selling products
  • Ebook
  • Online services
  • Backlink selling
  • Paid Guest Post

तो आप इन सात तरीकों से ब्लॉगिंग में पैसे कमा सकते हो मैं आशा करता हूं आपको Personal Blogging और Business Blogging में अंतर समझ आया होगा.

आप कैसे ब्लॉगिंग कर सकते हो?

आप दो तरीके से ब्लॉगिंग कर सकते हो पहला तरीका free है और दूसरा तरीका Paid है. पहले तरीके के बारे में बात करते हैं आप फ्री ब्लॉगिंग ब्लॉक्स्पॉट की मदद से कर सकते हो परंतु आपको इसमें भी थोड़े पैसे को खर्च करने ही पड़ेंगे. अब आपको पैसा क्यों खर्च करना पड़ेगा वह बताता हूं आपको एक कस्टम डोमेन लेना पड़ेगा क्योंकि आपको जो Blogspot के तरफ से डोमिन मिलता है उससे आप जल्दी अपनी वेबसाइट को रैंक नहीं करा सकते हो इसलिए आपको एक कस्टम डोमेन खरीदना पड़ेगा जो कि ₹800 तक आ जाएगा.

अब बात करते हैं paid मेथड की Paid method में आपको होस्टिंग लेनी पड़ेगी और एक कस्टम डोमेन लेना पड़ेगा और आप WordPress के जरिए आसानी से लोगिन कर सकते हो. अब मैं आपको बताता हूं कि आपको होस्टिंग का खर्चा कितना आएगा तो होस्टिंग आपको एक साल के मिलती है जिसका मूल्य आपको 3000 से 10000 तक आ सकता है 3000 में आपको ठीक ठाक Shared Hosting मिल जाएगी और 10000 में आपको एडवांस लेवल की Cloud Hosting मिलेंगे अगर आप ब्लॉगिंग की शुरुआत कर रहे हो तो आप शेयर्ड होस्टिंग ही ले.

अगर आप नीचे दिए गए लिंक से होस्टिंग लेते हैं तो आपको 50% तक का डिस्काउंट मिल जाएगा

ब्लॉगिंग के लिए टिप्स

अगर आप ब्लॉगिंग करना चाहते हो तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा. तो चलिए मैं आपको बताता हूं कि आपको किस किस चीज का ध्यान रखना है ब्लॉगिंग को शुरू करने से पहले।

1. Niche:-

तो सबसे पहले जानते हैं कि Niche क्या होता है ब्लॉगिंग में Niche का मतलब एक श्रेणी होती है जिसमें आप ब्लॉगिंग करते हो। अगर आप नया ब्लॉक बना रहे हो तो आपको एक अच्छा निचे ढूंढना बहुत जरूरी है क्योंकि अगर आप गलत Niche पर ब्लॉगिंग करते हो तो आपके ब्लॉग पर ट्राफिक नहीं आएगा. Niche के दो प्रकार होते है Micro Niche और Multiple Niche.

तो चलिए जानते हैं की Micro Niche क्या होता है  Micro Niche का मतलब होता है किसी एक विषय पर ब्लॉगिंग करना. Multiple Niche का मतलब होता है तरह-तरह के विषय पर ब्लॉगिंग करना. Niche चुनते समय आपको तीन चीजों का ध्यान रखना होगा पहला आपको उस Niche पर कॉन्पिटिशन चेक करना होगा. दूसरी चीज आपको उस Niche पर ट्रैफिक चेक करना होगा. तीसरी बात आपको ध्यान रखने होगी कि आप जिस Niche पर काम कर रहे हो वह नीच अवैध तो नहीं है.

2. Keywords:

किसी भी ब्लॉग को अगर आपको Search Engine पर रैंक कराना है तो आपको अच्छे तरीके से Keyword Researching करनी पड़ेगी. बिना Keyword Researching के आप अपने ब्लॉक को रैंक नहीं करा सकते. Keyword का मतलब होता है कोई एक विषय जिस पर आपको लेख लिखना है और वह लेखक को आप को सर्च इंजन में रैंक कराना है उस शब्द को कीवर्ड कहते हैं  e.g के तौर पर आपको एक लेख लिखना है जिसका शीर्षक है “ब्लॉगिंग क्या है और ब्लॉगिंग से हम कैसे पैसे कमा सकते है”  तो इस शीर्षक में कीवर्ड है ब्लॉगिंग है. Keyword चुनते समय आपको ध्यान रखना है कि आपको उसका Keyword difficulty और ट्राफिक चेक करना है अगर keyword difficulty  ज्यादा होगा तो आप उस पर जल्दी रैंक नहीं कर पाएंगे और अगर ट्रैफिक कम रहा तो आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं आएगा.

3. Domain Name:-

आपको एक अच्छा Domain Name लेना होगा जिसमें आपका कीवर्ड हो और वह यूनिक हो. Domain Name लेते वक्त हमेशा याद रखें कि आपको अपने डोमिन में अपना कीवर्ड implement करना है. आपको आकर्षित डोमिन और Domain लेना है जो लोगों को जल्दी से याद हो जाए.

4. Hosting:-

अगर आप Blog स्टार्ट कर रहे हो तो आपको एक अच्छी होस्टिंग लेनी होंगी. होस्टिंग का मुख्य काम होता है ब्लॉगिंग में अगर आपकी होस्टिंग बेकार है तो आपकी वेबसाइट स्लो हो सकती है और डाउन भी हो सकती है. इसीलिए चीप होस्टिंग ना खरीदें क्युकी ऐसे आप ही का नुक्सान है इससे अच्छा आप अपने ब्लॉग को ब्लॉक्स्पॉट पर चालू करें हां थोड़ा टाइम लग सकता है रैंक होने में पर एक बेकार होस्टिंग से अच्छा होता है ब्लॉक्स्पॉट क्योंकि वो कभी डाउन या स्लो नहीं होता है. अगर आपको अच्छी होस्टिंग चाहिए तो आप Resellerclub की होस्टिंग ले सकते हो अगर आप नीचे दिए गए लिंक से होस्टिंग लेते हो तो आपको 50% तक का डिस्काउंट मिल सकता है

5. Unique Content:-

आजकल बहुत लोग ब्लॉगिंग कर रहे हैं पर मैंने देखा है जो भी न्यू ब्लॉगर होता है वह एक ही गलती करते हैं. वह लोग किसी और का कंटेंट को कॉपी कर लेते हैं इसके कारण उनका लेख रैंक नहीं करता है. अगर आपको एक अच्छा ब्लॉगर बनना है तो हमेशा एक चीज याद रखनी होगी कि आपको कभी भी किसी के content को कॉपी नहीं करना है. आपको अपना खुद का कंटेंट लिखना है कम से कम आपको 800 शब्द का लेख लिखना है अगर आप इससे कम शब्द का लेख लिखते हैं तो रैंक होने में थोड़ा टाइम लग सकता है आपको अपना कंटेंट 100 %  यूनिक रखना होगा.
यह भी पढ़ें:- 

निष्कर्ष

मैं आशा करता हूं आपको हमारा यह लेख “ब्लॉगिंग क्या है और ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाते हैं” अच्छा लगा होगा. अगर आपको अच्छा लगा है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर आप ब्लॉगिंग से रिलेटेड और लेख चाहते हैं तो हमें फॉलो कीजिए और हमारे सोशल मीडिया को भी फॉलो कीजिए और इस आर्टिकल को शेयर कीजिए अपनी फैमिली और फ्रेंड्स के साथ धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top