हिंदी दिवस कब मनाया जाता है – Hindi Diwas Kab Manaya Jata Hai

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

नमस्कार दोस्तों, इस लेख में हम आपको ‘Hindi Diwas Kab Manaya Jata Hai‘, इसके इतिहास और हिंदी दिवस और विश्व हिंदी दिवस में क्या अंतर है इसके बारे में जानकारी प्रदान कर रहे हैं। हमारे देश के लगभग सभी राज्यों में ज्यादातर लोग हिंदी भाषी हैं। हिंदी भाषा को देश की मातृभाषा का दर्जा भी मिला है। हमारे देश के आधे से अधिक साहित्य और रचनाएँ हिंदी में हैं। यह भाषा करीब एक हजार साल पुरानी है। हिंदी और अन्य भाषाओं के उगम से पहले लोग संस्कृत भाषा में बोलते थे। हिंदी भाषा का महत्व आने वाली पीढ़ियों और दुनिया को बताने के लिये, और इस भाषा को बढ़ावा देने के लिए पूरे देश में हिंदी दिवस मनाया जाता है।

जरूर पढ़े : International Olympic Day 2024 : जानें तिथि, थीम, इतिहास और महत्व!

हिंदी दिवस कब मनाया जाता है – Hindi Diwas Kab Manaya Jata Hai

हिंदी दिवस को हर साल 14 सितंबर को मनाया जाता है। संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को हिंदी भाषा को भारत की आधिकारिक भाषा के रूप में घोषित किया था। इस अवसर पर, हिंदी दिवस का आयोजन हर साल इसी दिन किया जाता है ताकि हम हिंदी भाषा के महत्व को और अधिक महसूस कर सकें और उसका सम्मान कर सकें।

अनुमान है कि भारत में 121 से लेकर 780 से भी अधिक मातृभाषाएँ हो सकती हैं। भारतीय संविधान के अनुसार, केवल 22 भाषाएँ आधिकारिक रूप से मान्यता प्राप्त हैं, जो देश में ज्यादातर बोली जाती हैं। इनमें से हिंदी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। पूरे विश्व में मंदारिन, स्पेनिश और अंग्रेजी के बाद हिंदी चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है।

जरूर पढ़े : Summer Solstice 2024 : देखें क्यों है यह साल का सबसे रहस्यमय दिन!

हिंदी दिवस का इतिहास 

यह दिन दो वजहों से पूरी दुनिया में मनाया जाता है, संविधान सभा ने देवनागरी लिपि में लिखी हिंदी को राष्ट्रीय राजभाषा के रूप में स्वीकार किया था, और यह निर्णय संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को लिया था। इसी कारण हर साल 14 सितंबर को राष्ट्रीय हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है।

इसका दूसरा कारण यह है कि इस दिन हिंदी साहित्य के महान कवि व्यौहार राजेन्द्र सिंह की जयंती भी होती है। उनका जन्म 14 सितंबर 1900 को हुआ था। उन्होंने हिंदी को भारत की राष्ट्रीय भाषा होने के लिए बहुत प्रयास किया था। उनके इस योगदान के कारण राष्ट्रीय हिंदी दिवस मनाया जाता है।

जरूर पढ़े : International Day Against Drug Abuse 2024 : जानें अंतरराष्ट्रीय नशा निषेध दिवस 2024 की थीम, तिथि, इतिहास और इस दिन का महत्व!

पहली बार कब मनाया गया था हिंदी दिवस 

जब संविधान सभा ने 14 सितंबर 1949 को हिंदी को राष्ट्रीय भाषा का दर्जा दिया था। उसके चार साल बाद, अर्थात् 14 सितंबर 1953 को भारत में पहली बार हिंदी दिवस मनाया गया था। इस राष्ट्रभाषा के प्रचार और प्रसार के लिए राष्ट्रभाषा प्रचार समिति का गठन किया गया था। हिंदी के इस राजभाषा का महत्व कायम रखने के लिए इस दिन को मनाने की संकल्पना तैयार की गई थी।

राष्ट्रीय हिंदी दिवस और विश्व हिंदी दिवस में क्या अंतर है 

राष्ट्रीय हिंदी दिवस और विश्व हिंदी दिवस दोनों का मकसद एक ही है, हिंदी भाषा का महत्व दुनिया और आने वाली पीढ़ी को पता चले। लेकिन राष्ट्रीय हिंदी दिवस और विश्व हिंदी दिवस अलग-अलग दिन मनाए जाते हैं। राष्ट्रीय हिंदी दिवस भारत में 14 सितंबर को और विश्व हिंदी दिवस विश्वभर में 10 जनवरी को मनाया जाता है।

महाराष्ट्र के नागपुर में 10 जनवरी 1975 में पहला विश्व हिंदी सम्मेलन आयोजित किया गया था। यहां आपको बता दूं कि विश्व हिंदी दिवस दुनिया के बहुत से देशों में मनाया जाता है।

कौन है हिंदी भाषा के जनक

हिंदी भाषा का नाम फ़ारसी भाषा के ‘हिंद’ शब्द से लिया गया है, जो सिंधु नदी से जुड़ा हुआ है। हिंदी भाषा के पिता भारतेंदु हरिश्चंद्र को माना जाता है, और उनका योगदान हिंदी भाषा और साहित्य में बहुत महत्वपूर्ण है। उनके व्यापक योगदान के अलावा, वे पंजाबी, बंगाली और मारवाड़ी भाषाओं में भी महत्वपूर्ण योगदान के लिए जाने जाते हैं। भारतेंदु हरिश्चंद्र को हिंदी साहित्य के पिता के रूप में माना जाता है, और उनके कार्यकाल में उन्होंने हिंदी भाषा का प्रचार और प्रसार पूरे राष्ट्र में करने का प्रयास किया था।

सारांश 

इस लेख में हमने ‘Hindi Diwas Kab Manaya Jata Hai‘ इसके बारे में जानकारी देने का प्रयास किया है। अगर आपको यह जानकारी महत्वपूर्ण लगी हो तो कृपया हमें कमेंट करके बताएं। यदि इस लेख में कोई त्रुटि हो तो आप हमें मेल कर सकते हैं। हम इसे सुधारने का प्रयास अवश्य करेंगे। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें। इसी तरह के और लेखों को देखने के लिए आप हमसे WhatsApp के माध्यम से जुड़ सकते हैं।

FAQ,s

हिंदी दिवस के जनक कौन है?

हिंदी दिवस के जनक का नाम भारतेंदु हरिश्चंद्र है। उन्हें हिंदी भाषा के प्रचार और प्रसार में बहुत महत्वपूर्ण योगदान के लिए जाना जाता है।

भारत में पहला हिंदी दिवस कब मनाया गया?

भारत में पहला हिंदी दिवस 14 सितंबर 1953 को मनाया गया था।

हिंदी का नाम हिंदी क्यों पड़ा?

यह नाम फ़ारसी भाषा के “हिन्द” शब्द से लिया गया है, जो कि सिंधु नदी से जुड़ा हुआ है।

भारत की सबसे पुरानी भाषा कौनसी है ?

संस्कृत भाषा को भारत की एक पुरानी भाषा माना जाता है, जिसका उपयोग वेदों के लिए किया गया था और यह भारतीय सभ्यता के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती थी।

Share Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *